News of chapra Raina news
Chapra news

भोजपुरी गायक और उनकी असलील गाने : कब होगा सुधार ?

आई आपन आपन जात जमात के गायक लोग के गीत और एल्बम पर गर्व कईल जाव…

पिछले कुछ दिन से भोजपुरी लोकगीत में अश्लीलता पर चर्चा गर्म है। पर लोग चर्चा सिर्फ एक दो लोगों को टार्गेट कर के कर रहे है। तो आइए हम आपको भोजपुरी लोकगीत में अश्लील गायकों के बारे में परिचय कराते हैं। भोजपुरी लोकगीत में अश्लीलता पुरी तरह से 90 के दशक में प्रवेश करती है जब गुड्डू रंगीला, विपिन बाहार व अरुण रसिला की जोड़ी अपना पहला कैसेट “देवरा कटले बाटे गाल” लेके आते हैं।

और यहां से जब परम्परा शुरु होती है तो यह अनवरत आगे बढती चली गयी और आज अपने चरमोत्कर्ष को प्राप्त कर चुकी है। इनसे पहले बिजली रानी, मुन्ना सिंह व बालेश्वर राय का नाम आता है पर उनके गीतों में अश्लीलता नहीं बल्कि द्वीअर्थी शब्द होते थे। बहुजन गायकों के लिए तब कैसेट में गाना एक सपना होता था।

जब कोई गायक का कैसेट आता था उसके उपर फोटो देख फुले नहीं समाते थे। और इस फोटो को कैसेट पर लगाने के लिए बहुजनों को महीनों दिल्ली में नौकरी या खेत बेच देना पड़ता था या महाजन से कर्जा लेना पड़ता था। पर जैसे ही डिजिटल मार्केट ने अपना पांव पसारा समान्य वर्ग के गायकों जो पहले से स्थापित थे यहां गंध मचाना शुरु किए। तब बहुजनों सवर्णों के लिए कम दाम पर गीत गाने का एक प्लेटफॉर्म मिल गया। फिर नतीजा आज आपके सामने है।


बहरहाल आपको हम कुछ अश्लील गायकों की सूची एक साथ डाल रहे हैं। जितना मैने खोज पाया। बाकी आप इडिट कर के आगे बढा सकते हैं। और आप इनपर समाजिक बहिष्कार के साथ साथ कानूनी कार्यवाई के लिए आगे बढ सकते हैं। लिस्ट लम्बा है तो धैर्य से पढें।

Bhojpuri hot bhajan Jo aap apne maa behen ke saath kabhi nhi sun sakte

गायक – सोनू तिवारी

  1. चोलीय के हुक टूटता
  2. तोरा घर के सम्मान दूसरे खाला
  3. सामान गरम बा
  4. टंगरी चढ़ावेले
    इसके आगे 24 इनकी और भी कृति है जो ये अपने माँ बहन के साथ नहीं सुन सकते है |

गायिका – निशा पांडे

  1. ठाढ़ा मे दहम बेसि माजा
  2. देवरू लेबे का चूमा चाटी
  3. जाड़ा जात नईखे रज़ाई से
  4. राते लाइट जला के पिया फाइट किया
  5. चोय चोय पलंगवा पिया हो
    इसके अतीतिक्त 17 इनके और भजन है जो ये परिवार के साथ नहीं सुन सकती है

गायिका – पूनम पांडे

  1. लहंगा उठा के मारे ला
  2. घुसाईल ऐ पिया
  3. धस गइल रस गइल
  4. हमके होता दरद
  5. जवानी जंग करत बा
    इसके अतीतिक्त 22 इनके और भजन है जो ये परिवार के साथ नहीं सुन सकती है

गायक – नयन चौबे

  1. कभर लगा के लवर किया
  2. करब नवान
  3. लभर कैसे किया
  4. जड़ा मे खाड़ा कके
    इसके अतीतिक्त 24 इनके और भजन है जो ये परिवार के साथ नहीं सुन सकते है

गायक – प्रसान्त चौबे

  1. सेज के सवाद
  2. चूमा लेबे मे दांत काटें
  3. बथतबा
  4. सर्विसिंग खोजअता
    इसके अतीतिक्त 12 इनके और भजन है जो ये परिवार के साथ नहीं सुन सकते है।

गायक – रितेश पाण्डेय

  1. पाण्डेय जी का बेटा हूँ चिपक के चुम्मा लेता हूँ।
  2. करुआ तेल
  3. पियवा से पहिले हमार रहलु
    और भी इनके हाॅट भजन हैं जो ये अपने घर परिवार के बीच नहीं सुन सकते।

गायक – अरविन्द चौबे उर्फ अरविन्द अकेला

  1. सकेत होता
  2. सिस्टर का बिस्तर लगाना
  3. हूक राजा जी
    और भी इनके हाॅट भजन हैं जो ये अपने घर परिवार के बीच नहीं सुन सकते।

गायिका – प्रियंका पाण्डेय

  1. लगाई द ना तकिया
  2. ओखरी मे कुटा जाई
    और भी इनके हाॅट भजन हैं जो ये अपने घर परिवार के बीच नहीं सुन सकते।

गायिका – अमृता दिक्षित

  1. दिया बुता के राजा क्या क्या किया
  2. रोज रोज हमके भी चाहीं
  3. दरद कबार दिहलस
  4. आदत नइखे लगावे के
    और भी इनके हाॅट भजन हैं जो ये अपने घर परिवार के बीच नहीं सुन सकते।

गायिका – सुभा मिश्रा

  1. खड़ा होला नाही
  2. आव तेल लगाके
  3. बड़ा मन करता
    और भी इनके हाॅट भजन हैं जो ये अपने घर परिवार के बीच नहीं सुन सकते।

गायक – राकेश मिश्रा

  1. चोलिया ध के पेन्हाव
  2. कब चिखइबू
  3. बरफ के पानी
    और भी इनके हाॅट भजन हैं जो ये अपने घर परिवार के बीच नहीं सुन सकते।

गायक – गुड्डू रंगीला

  1. सामान छुआवे
  2. छाटल छिनार रहलु
  3. घुस गइल फस गइल
    और भी इनके हाॅट भजन हैं जो ये अपने घर परिवार के बीच नहीं सुन सकते।

गायिका – ब्यूटी पांडेय

  1. हाथ से ध के खेलs ना
  2. राजा छोट बा सामान
  3. माजा मारेला भातार
    और भी इनके हाॅट भक्ति गाने हैं जो ये अपने परिवार के साथ नहीं सुन सकते।

गायिका – खुशबू तिवारी

  1. पियवा से पहिले तोहार रहनी
  2. भातार मे नइखे माजा
  3. बानी हम नहइले सेम्पू से
    और भी इनके हाॅट भक्ति गाने हैं जो ये अपने परिवार के साथ नहीं सुन सकते।

गायिका – राधा पाण्डेय

  1. चढ़ल जवानी काटेल चानी
  2. तुर दिहल सिल पैक
  3. संइया रोमांटिक हो के
    और भी इनके हाॅट भक्ति गाने हैं जो ये अपने परिवार के साथ नहीं सुन सकते।

गायक- राजकुमार मौर्या

  1. दर्द उठे लहँगवा में
    और भी इनके ऐसे भक्ति गाने हैं जिसे ये अपने परिवार के बीच नहीं सुन सकते।

गायक- त्रिवेणी बाबु कुशवाहा

  1. कुशवाहा जी का बेटा हूँ
    और भी इनके ऐसे भक्ति गाने हैं जिसे ये अपने परिवार के बीच नहीं सुन सकते।

गायक- राजेश राज कुशवाहा

  1. कुशवाहा जी के बेटा देता नमरी रे
  2. कुशवाहा जी के बेटा – 2
  3. कुशवाहा जी के बेटा तोहार ढिला क देही
    और भी इनके ऐसे भक्ति गाने हैं जिसे ये अपने परिवार के बीच नहीं सुन सकते।

गायक – राजन राज (कुशवाहा)

  1. ताजा रसगुल्ला
  2. बेलनवा खोजेला
  3. खजुर के तारी
  4. चौकी चोय चोय बोले रे
    और भी इनके ऐसे भक्ति गाने हैं जिसे ये अपने परिवार के बीच नहीं सुन सकते।

गायक- धीरज कुशवाहा

  1. बबुनी हम कुशवाहा हईं
  2. भतार चाहीं
  3. सुते नाहीं देला
  4. कुशवाहा जी के माल बिया
  5. भतरकटनी- 2
  6. बेलना खड़ा कर के
    और भी इनके अनेक ऐसे भक्ति गाने हैं जो ये अपने घर परिवार के साथ नहीं सुन सकते।

गायक- शशिकान्त मौर्या

  1. कुशवाहा जी को संईया बना लीजिए

गायक – नील कमल सिंह

  1. लइका के नेपुल भातार चुसता
  2. नया साल में माल ससुराल गइल।
    और भी इनके ऐसे भक्ति गाने हैं जिसे ये अपने परिवार के बीच नहीं सुन सकते।

गायक- पवन सिंह

  1. मारता माजा बिन बियाहे राजा जी
  2. राते दिया बुता के का का किया
  3. लुलिया का मांगेले
    और भी इनके ऐसे भक्ति गाने हैं जिसे ये अपने परिवार के बीच नहीं सुन सकते।

गायक – गुंजन सिंह

  1. राजा आज ह सुहाग रात
  2. राजा जी सिल तूड़ दिहले
  3. जवानी जियान
    और भी इनके ऐसे भक्ति गाने हैं जिसे ये अपने परिवार के बीच नहीं सुन सकते।

गायक – संजीत सिंह

  1. जवानी के पानी
  2. कोहबर मे पलँग पूजा
  3. नाच ए रसिली
    और भी इनके ऐसे भक्ति गाने हैं जिसे ये अपने परिवार के बीच नहीं सुन सकते।

गायक – समर सिंह

  1. ले ल माजा बना के बकैया
  2. दाग लागी साया में
  3. डालब आपन रम्मा
    और भी इनके ऐसे भक्ति गाने हैं जिसे ये अपने परिवार के बीच नहीं सुन सकते।

गायक – अंकित सिंह

  1. दाबला पर दुधवा निकल जारा हो
    2.न इहर के पलंगिया
  2. लवर कुआंरे मे
    और भी इनके ऐसे भक्ति गाने हैं जिसे ये अपने परिवार के बीच नहीं सुन सकते।

गायिका – प्रियंका सिंह

  1. छलकता हमरो जवनिया
  2. गरमा द हमार देह पिया
  3. पिया कोरवे मे सुतेला
    और भी इनके ऐसे भक्ति गाने हैं जिसे ये अपने परिवार के बीच नहीं सुन सकते।

गायिका – खुशबू सिंह

  1. डालीं लहँगा में बरफ
  2. बिचवा में फाटल देखनी
  3. हमारा भातार के
    और भी इनके ऐसे भक्ति गाने हैं जिसे ये अपने परिवार के बीच नहीं सुन सकते।

गायिका – अंतरा सिंह प्रियंका

  1. डाल देब मुँह में
  2. डाल दिया सूट फइला के
  3. पाकल आम
    और भी इनके ऐसे भक्ति गाने हैं जिसे ये अपने परिवार के बीच नहीं सुन सकते।

गायक- प्रमोद प्रेमी यादव

  1. कइसे करबू माना गोरी
  2. केतना लोग तर गइल एकर चीज खाके
  3. जयमाल वाला सड़िया
    और भी इनके ऐसे भक्ति गाने हैं जिसे ये अपने परिवार के बीच नहीं सुन सकते।

गायक – खेसारीलाल यादव

  1. अइसन का कइल देहिया भइल बा जाम्ह हो
  2. लहंगा मे चिकन समान बा
  3. मरद अभी बच्चा बा
    और भी इनके ऐसे भक्ति गाने हैं जिसे ये अपने परिवार के बीच नहीं सुन सकते।

गायक – अजय लाल यादव

  1. पाण्डेय जी की बेटी है
  2. यादव जी के लइका से पट
  3. गोली मार देम
    और भी इनके ऐसे भक्ति गाने हैं जिसे ये अपने परिवार के बीच नहीं सुन सकते।

गायक – तुफानी लाल यादव

  1. तोरो के दे देम
  2. भक देनी घुसल
  3. दुनो मे ठेकी
    और भी इनके ऐसे भक्ति गाने हैं जिसे ये अपने परिवार के बीच नहीं सुन सकते।

गायक – दिनेश लाल यादव

  1. अमरपाली कच कच खाली
  2. जाड़ के जोगार क के जा
  3. माई रे माई बथता कमरिया
    और भी इनके ऐसे भक्ति गाने हैं जिसे ये अपने परिवार के बीच नहीं सुन सकते।

गायक – भीम लाल यादव

  1. बाबु साहेब का बेटा है
  2. तुम सुसुक सुसुक के रोई थी
  3. आव राजा ले ल जवानी वाला
    और भी इनके ऐसे भक्ति गाने हैं जिसे ये अपने परिवार के बीच नहीं सुन सकते।

गायक – रबिन्द्र यादव

  1. चुवता पसेना सलवार से
    और भी इनके ऐसे भक्ति गाने हैं जिसे ये अपने परिवार के बीच नहीं सुन सकते।

गायक – गोलु राज यादव

  1. यादव जी के बेटा छेदा
  2. रंगदार यादव
  3. मजा मारे सुता के
    और भी इनके ऐसे भक्ति गाने हैं जिसे ये अपने परिवार के बीच नहीं सुन सकते।

गायक – दीपक आनंद


1.उठ
ईबू गोरी लहंगा की पिस्टल निकाली 2.जब ले होत नईखे शादी तले तुंही काम चलावs 3.रंग ढोढ़ीये में घोरता
4.रंगाई चिकन समान

गायक – अजीत आनन्द

  1. न इहर में दे के आईल बिया
  2. सट के गर्मी मेटा ल
  3. चोली अहिरटोली मे धराईल बा
    और भी इनके हाॅट भक्ति गाने हैं जो ये अपने परिवार के साथ नहीं सुन सकते।

गायक- बिक्की बबुआ

  1. सखी सब के ल इका धका धक होखता
  2. सेट कर द गोटी
  3. खुलल बा केवारी किली ठोक द
    और भी इनके हाॅट भक्ति गाने हैं जो ये अपने परिवार के साथ नहीं सुन सकते।

गायक – हेमन्त हरजाई

  1. कोहबर मे भातार तोर मर जाई
  2. माल फसल बारात में
  3. गइल लटक
    और भी इनके हाॅट भक्ति गाने हैं जो ये अपने परिवार के साथ नहीं सुन सकते।

गायक- अंकित तिवारी

  1. डालब बोर बोर के
  2. कस के दाब दी
  3. मजा लेवे कोरा उठा के
    और भी इनके हाॅट भक्ति गाने हैं जो ये अपने परिवार के साथ नहीं सुन सकते।
  • गायक – बब्लू सिंह
  1. राजा हिलावs ना पलँग
  2. साईज एकर बड़े बड़े
  3. रानी आवs कोरा में
    और भी इनके हाॅट भक्ति गाने हैं जो ये अपने परिवार के साथ नहीं सुन सकते।

गायक – सुजीत राय पिंकु

  1. सुतिले समानवा गींज के
  2. बानी भुमिहार छिनार
  3. छिनरो मरवले हो बारु ना
    और भी इनके हाॅट भक्ति गाने हैं जो ये अपने परिवार के साथ नहीं सुन सकते।

गायक – बाबु टिंकु

  1. हमके मरद चाहीं भुमिहार
  2. सामान हमार पानी छोड़ता
  3. निचवा के निचवा
    और भी इनके हाॅट भक्ति गाने हैं जो ये अपने परिवार के साथ नहीं सुन सकते।

गायक – अविनाश पाण्डेय

  1. सुराख में अँगुरी करे
  2. रखब मरद बट इया
  3. कमर कमजोर हमार कइलs
    और भी इनके हाॅट भक्ति गाने हैं जो ये अपने परिवार के साथ नहीं सुन सकते।

गायक – विकाश सिंह

  1. तोहार दिदिया के जोबनवा डोले
  2. तेल डाल के ढुकावs
  3. मरद खोजबू त हुलास पाण्डेय के देम
    और भी इनके हाॅट भक्ति गाने हैं जो ये अपने परिवार के साथ नहीं सुन सकते।

गायक – सुमित द्विवेदी पवन

  1. माल के गवना हो गइल
  2. रानी उदहेली पानी
  3. भउजी फसल बबुआन से
    और भी इनके हाॅट भक्ति गाने हैं जो ये अपने परिवार के साथ नहीं सुन सकते।

गायक – अवधेश प्रेमी

  1. दिने पर दिन लटके
  2. हमरा चाहीं रे छउरी ऊ
  3. भतार सुते सौतिन के लेके
    और भी इनके हाॅट भक्ति गाने हैं जो ये अपने परिवार के साथ नहीं सुन सकते।

गायक – दीपक दिलदार

  1. साया वाला डांस
  2. संइया सौतिन संगे
  3. रतिया कहां बितवल ना
    और भी इनके हाॅट भक्ति गाने हैं जो ये अपने परिवार के साथ नहीं सुन सकते।

गायक – आलम राज

  1. रानी जाए द अउरो भीतर
  2. घुस गयिल फंस गयिल
  3. होठ तनी चाट लेवे द
    और भी इनके हाॅट भक्ति गाने हैं जो ये अपने परिवार के साथ नहीं सुन सकते।

गायक – शनि कुमार सानिया

  1. चोलिया के दुकान
  2. कु कु हो कुकु
  3. रात भर माजा मरिह
    और भी इनके हाॅट भक्ति गाने हैं जो ये अपने परिवार के साथ नहीं सुन सकते।

गायक – राधेश्याम रसिया

  1. सइया मारे सटा सट
  2. हऊ का ह रे
  3. बाल ब्रह्मचारी
    और भी इनके हाॅट भक्ति गाने हैं जो ये अपने परिवार के साथ नहीं सुन सकते।

गायक – लुड्डू दिवाना

  1. लईकि पटक के चढ जाई
  2. माल कब ठेकी
  3. बिलइया मूस खोजेले
    और भी इनके हाॅट भक्ति गाने हैं जो ये अपने परिवार के साथ नहीं सुन सकते।

गायक – बादल बवाली

  1. खुला देख के समान
  2. दिदिया रे दिदिया
  3. चोली खोलs
    और भी इनके हाॅट भक्ति गाने हैं जो ये अपने परिवार के साथ नहीं सुन सकते।

गायक – सकल बलमुआ

  1. तहरा ओहीमे चुम्मा लेब गोरी
  2. सील कब टुटी
  3. समियाना के चोप
    और भी इनके हाॅट भक्ति गाने हैं जो ये अपने परिवार के साथ नहीं सुन सकते।

गायिका – खुशबू उत्तम

  1. अभी घुसल नाही आधा
  2. ओठलाली से रोटी बोर के
  3. सामाना नइखे का रे
    और भी इनके हाॅट भक्ति गाने हैं जो ये अपने परिवार के साथ नहीं सुन सकते।

गायिका – कल्पना

  1. चोली के साईज
  2. चोली फाट जाई
  3. चोली टाईट कसे बदनवा
    और भी इनके हाॅट भक्ति गाने हैं जो ये अपने परिवार के साथ नहीं सुन सकते।

गायिका – इंदु सोनाली

  1. मउगा मरद
  2. तहार ढोढिया
  3. ढोढी में बुड़ी मार ल
    और भी इनके हाॅट भक्ति गाने हैं जो ये अपने परिवार के साथ नहीं सुन सकते।

गायक – अंकुश राज

  1. चोली के च्यवनप्रास चाटs
  2. देह बा कुआंर
  3. देवरा ढेला लगा के
    और भी इनके हाॅट भक्ति गाने हैं जो ये अपने परिवार के साथ नहीं सुन सकते।

गायक – गोलू गोल्ड

  1. जांघ पर निशानी
  2. ओहीमे पेन्हा द
  3. कवन बिटामिन खाले
    और भी इनके हाॅट भक्ति गाने हैं जो ये अपने परिवार के साथ नहीं सुन सकते।

गायक – अजय राज

  1. टी शर्ट उठा के
  2. ले ल मच्छरदानी
  3. डालेला हमरा मे दाना
    और भी इनके हाॅट भक्ति गाने हैं जो ये अपने परिवार के साथ नहीं सुन सकते।

नोट- अगर आपके नजर मे और भी ऐसे गायक जो भोजपुरी अश्लील गीत गाते हों उनका नाम आप कमेंट में इनबक्स मे बता सकते हैं।

हमारा मकसद जातिवाद को बढ़ावा देना नही है । हम आपको यह दिखाना चाहते है की जाती कोई भी हो, लेकिन आज कल के भोजपुरी गायक असीलता को बढ़ावा दे रहे है । इसलिए आपसे निवेदन है की ऐसे गायक को बढ़ावा न दे , एक बेहतर समाज बनाए ।

यह पोस्ट news.chapraonline.com के द्वारा नही लिखा गया है, इसे हमे एक नेक और समाज सुधारक , युवा ने भेजा है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *